Meaning of Gunchaa

शनिवार, अगस्त 17, 2013

महंगाई डायन खाए जात है...

रुपया हुआ 60 का
अब "ठाट" किस बात का???

विदेश जाने का सपना अब सपना रह जाएगा
रुपया हमारा अब "Senior Citizen" कहलाएगा

इससे न तुम कुछ अब खरीद पाओगे
यौवन के किस्से इसके बच्चों को सुनाओगे

दूध, फल, सब्जियां सब महंगा हो जाएगा
आम आदमी को तो केवल "ठेंगा" ही मिल पाएगा 

पेट्रोल, डीजल, बजली के भी दाम बड़ जाएंगे
1000w का करंट हमारी जेबों पे लगाएंगे

स्कूटर, गाड़ियाँ अब कम चल पाएंगी
इनकी जगह अब साइकिल, बैल-गाड़ियाँ आ जाएंगी

ज्यादा नहीं तो थोड़ी सी ये बात मेरी मान लो
ज्ञान की ही बात इससे गाँठ तुम बांद लो

महंगाई के मौसम में इस बात कि है चर्चा
जो आमदनी हो रुपैया तो अठन्नी करो खर्चा

नहीं तो ये "डायन" (महंगाई) तेरे घर में घुस जाएगी
घर में घुस कर तेरा बजट हिलाएगी

ऐसे चलेगा तो मैं कैसे जी पाऊँगा??
क्या सांस लेने के लिए भी "टैक्स" चुकाऊंगा??


-मनप्रीत 

कोई टिप्पणी नहीं: